Home Reviews डायबिटीज(Diabetes) की रोकथाम और उसका ट्रीटमेंट(Treatment) कैसे कर सकते हैं ?

डायबिटीज(Diabetes) की रोकथाम और उसका ट्रीटमेंट(Treatment) कैसे कर सकते हैं ?

देखिये आजकल इतने बीमारियां हो चुकी हैं,कि उनका नाम याद करने में ही इंसान की पूरी उम्र निकल जाए|जिनमें से एक सबसे ज्यादा प्रमुख है-डायबिटीज की बीमारी,आजकल हर दुसरे व्यक्ति को डायबिटीज की शिकायत होती है|तो आप इस बीमारी को कैसे रोक सकते हैं,इसके सिम्पटम्स(Symptoms) और इसका ट्रीटमेंट क्या है,ये सब इस पोस्ट में आपको बताया गया है|और हाँ आपको बिना किसी मेडिसिन(Medicine) के ट्रीट्मेंट्स इस पोस्ट में बताये गये हैं,यानि कि आपको कोई भी दवा नहीं लेनी है,अपने घर पर ही आप डायबिटीज का ट्रीटमेंट कर सकते हैं|

Symptoms-लक्षण

तो वो कौनसे सिम्पटम्स यानी लक्षण होते हैं,जिनसे आप पता कर सकते हैं की आपको डायबिटीज की शिकायत है या नहीं,तो डायबिटीज के निम्न सिम्पटम्स हैं-सबसे पहला सिम्प्टम प्रजेंस ऑफ़ ग्लूकोस इन यूरिन,यानि की यूरिन में ग्लूकोस दिखने लगेगा ,वजन घटने लगेगा ,आप चिड़चिड़े हो जाएंगे ,आँखों से कम दिखने लगेगा ,ज्यादा प्यास लगने लगेगी ,ज्यादा भूख लगने लगेगी ,और आपको बहुत ज्यादा यूरिन आएगा,आदि|अगर आपको इनमें से कोई भी सिम्प्टम अपनी बॉडी में दीखता है,तो आपको डायबिटीज की शिकायत हो सकती पर यदि आपको इनमें से कोई भी सिम्प्टम अपनी बॉडी में नहीं दीखता है,तो आप एक दम स्वस्थ हैं|

Prevention-रोक-थाम

तो प्रिवेंशन(Prevention) यानि रोक थाम का मतलब है,की आप कैसे डायबिटीज को होने से पहले ही रोक सकते हैं|तो डायबिटीज आपको ज्यादा मात्रा में ग्लूकोस(Glucose), फ्रक्टोस, सुक्रोस(Sucrose),आदि लेने से होती है|तो आप ऐसे भोजन का सेवन कम कर सकते हैं,जिनमें ज्यादा मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स(Carbohydrates) होते हैं,साथ ही ज्यादा मीठा खाने से भी आपको बचना चाहिए|तो ये ही कुछ प्रिवेंशन हैं,जिनको अपने माइंड में रखकर आप डायबिटीज को अपने आस-पास भटकने से पहले ही रोक सकते हैं|

Treatment-इलाज

तो अब बात करते हैं ट्रीटमेंट की,यानि की अगर आपको डायबिटीज की बीमारी हो चुकी है,तो कैसे आप बिना किसी मेडिसिन के उसे ठीक कर सकते हैं|तो आप को डेली एक्सरसाइज करनी है, ज्यादा कोलेस्ट्रॉल(Cholesterol) वाला भोजन नहीं करना है ,अपने वेट(Weight) को कंट्रोल(Control) करना है,और कभी भी एक बार में ही आपको भोजन नहीं करना है,अपने भोजन को बाँट-बाँट के करना है,उदाहरण के तौर पे जैसे आप एक टाइम में अगर 4 चपाती खाते हैं तो आपको 4 चपाती एक साथ नहीं खानी हैं आपको हर 1-1 घंटे के बाद एक-एक चपाती खानी है,यानि की अपने खाने को डिस्ट्रीब्यूट(Distribute) करना है|तो ये सब काम करके आप डायबिटीज का इलाज कर सकते हैं|

तो इस पोस्ट में बताई गई जानकारी के आधार पर आप पता कर सकते हैं,की आपको डायबिटीज है या नहीं,और कैसे आप उसको प्रिवेंट(Prevent) कर सकते हैं,और साथ ही अगर आपको डायबिटीज हो जाती है तो कैसे आप उसका बिना मेडिसिन्स के ही ट्रीटमेंट कर सकते हैं,ये सब आपको बहुत ही अच्छी तरह बताया गया है|

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Archives